Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

..और उसकी चूत मचलने लगी

Antarvasna, hindi sex stories: कॉलेज में कैंपस प्लेसमेंट हो जाने के बाद मेरी नौकरी दिल्ली में ही लग गई थी। पापा और मम्मी भी बहुत ज्यादा खुश थे हम लोग दिल्ली में ही रहते हैं। पापा के कपड़ों का कारोबार है वह काफी वर्षों से यह काम कर रहे हैं। मुझे भी इस बात की बड़ी खुशी है पापा ने हमेशा मेरा सपोर्ट किया है उन्होंने मुझे कभी भी किसी चीज की कोई कमी महसूस नहीं होने दी। जब घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी उस समय भी उन्होंने मेरी पढ़ाई में कभी भी कोई कमी नहीं होने दी और अब मेरी जिंदगी में सब कुछ अच्छे से चलने लगा है मेरी जॉब भी लग चुकी है। पापा का बिजनेस भी बहुत ही अच्छे से चल रहा है कभी-कभार पापा और मैं एक दूसरे के साथ बैठकर इस बारे में बात कर लिया करते हैं। भैया कि जिंदगी में कुछ ठीक नहीं चल रहा था क्योंकि भैया के डिवोर्स हो जाने के बाद वह पूरी तरीके से टूट चुके थे।

मैंने कभी भी यह सोचा नहीं था भैया का डिवोर्स हो जाएगा लेकिन भाभी और भैया के बीच के बढ़ते झगड़ों की वजह से घर का माहौल भी खराब होने लगा था और उन दोनों के डिवोर्स की नौबत आ चुकी थी। पापा ने कई बार भैया को समझाने की कोशिश की थी लेकिन भैया इस बात को नहीं माने भैया और भाभी ने डिवोर्स लेने का फैसला कर लिया था। वह दोनों अलग रहते हैं भैया बहुत ज्यादा परेशान रहने लगे थे। उनकि नौकरी पर भी इस बात का असर होने लगा था भैया ने अपनी जॉब से रिजाइन दे दिया था। भैया अपनी जॉब से रिजाइन देने के बाद बहुत ज्यादा परेशान रहने लगे थे उनकी परेशानी दिन-ब-दिन बढ़ती ही जा रही थी उनकी परेशानी का कारण सिर्फ और सिर्फ यही था वह भाभी से अलग हो चुके थे। पापा चाहते थे वह दूसरी शादी कर ले लेकिन भैया इस बात के लिए बिल्कुल भी तैयार नहीं थे। भैया ने साफ तौर पर मना कर दिया था वह कहने लगे मैं दूसरी शादी करने के बिल्कुल भी पक्ष में नहीं हूं। वह दूसरी शादी करने के लिए तैयार नहीं थे हम दोनों की जिंदगी काफी ज्यादा बदल चुकी थी।

भाभी की जिंदगी भी बहुत ज्यादा बदल चुकी थी सब लोगों ने उन दोनों को समझाने की कोशिश की थी लेकिन अब कोई फायदा नहीं था क्योंकि वह दोनों अलग ही रहने लगे थे और उन दोनों की जिंदगी में बहुत ज्यादा बदलाव आने लगा था। भैया ने अपनी जॉब से भी रिजाइन दे दिया था इसलिए पापा चाहते थे भैया उनका बिजनेस संभाल ले और भैया ने पापा का बिजनेस संभाल लिया था वह बहुत अच्छे से काम कर रहे थे सब कुछ बहुत ही अच्छे से चल रहा था। भैया कि जिंदगी में पहले जैसी खुशियां वापस लौट चुकी थी और भैया इस बात से बड़े खुश थे जिस तरीके से उनकी जिंदगी मे खुशियां लौट चुकी थी। भैया की जिंदगी में अब सब कुछ ठीक से चलने लगा था मैं भी बहुत ज्यादा खुश था। भैया चाहते थे वह पापा और मम्मी की बात मान जाए और उन्होंने पापा और मम्मी की बात मान ली उन्होने शादी करने का फैसला कर लिया था। वह पापा और मम्मी की बात मान चुके थे जब भैया ने उनकी बात मान ली थी तो मुझे भी इस बात की बड़ी खुशी थी भैया ने उनकी बात मान ली थी।

भैया की अब शादी हो चुकी थी। भैया शादी करने के बाद अपनी जिंदगी में आगे बढ़ने की कोशिश कर रहे थे और उनकी जिंदगी अच्छे से चलने लगी थी वह बहुत ही ज्यादा खुश थे जिस तरीके से उनकी जिंदगी में खुशियां वापस लौट चुकी थी। भैया ने पापा के बिजनेस को भी आगे बढ़ा दिया था वह लोग बड़े ही खुश थे जिस तरीके से भैया की जिंदगी अच्छे से चल रही थी मुझे इस बात की बड़ी खुशी थी भैया की जिंदगी अच्छे से चलने लगी थी। एक दिन में अपने ऑफिस से घर लौट रहा था उस दिन मुझे घर आने में देर हो गई थी। भैया ने मुझे फोन किया जब उन्होने मुझे फोन कर के कहा कमल तुम कहां पर हो? मैंने भैया को कहा भैया मैं बस थोड़ी देर बाद घर पहुंच रहा हूं। भैया ने मुझे कहा तुम्हारी भाभी की तबीयत ठीक नहीं है तुम उन्हें हॉस्पिटल लेकर चला जाना मुझे घर आने में देर हो जाएगी। मैंने उन्हे कहा ठीक है। मैं थोड़ी देर बाद घर पहुंचा तो मैं भाभी को हॉस्पिटल लेकर गया। भाभी की तबीयत ठीक नहीं थी उनको बुखार आ रहा था डॉक्टर ने उन्हें कुछ दवाइयां दी थी।

मैं भाभी को घर ले आया था उसके बाद मैं घर पर बैठा ही हुआ था भैया भी आ गए थे। भैया और मैंने उस दिन साथ मे डिनर किया मुझे काफी अच्छा लगा था भैया और मैंने उस दिन साथ में डिनर किया था। मेरी जिंदगी बहुत ही अच्छा से चल रही है अब मुझे इस बात की खुशी है भैया की जिंदगी अच्छे से चल रही थी। भैया की जिंदगी मे पहले की तरह खुशियां वापस लौट चुकी थी और उनकी जिंदगी में सब कुछ ठीक हो चुका था। मेरे ऑफिस में जॉब करने के लिए सुहानी आई। सुहानी से मेरी काफी अच्छी बनने लगी थी सुहानी को ऑफिस में आए हुए सिर्फ 15 दिन ही हुए थे। वह जब भी मुझे देखती मुझे देखकर उसके चेहरे पर एक मुस्कुराहट आ जाती और मैं भी जब उसे देखता तो वह भी खुश हो जाती थी। मुझे बहुत ही अच्छा लगता था जिस तरीके से मैं और सुहानी एक दूसरे के साथ होते और एक दूसरे से बातें करते। मुझे नहीं मालूम था सुहानी के दिल में मेरे लिए क्या चल रहा है वह मेरे साथ में शारीरिक सुख का मजा लेना चाहती थी और कहीं ना कहीं वह मुझे इशारो इशारो में यह बात बता दिया करती थी। मैं भी सुहानी को एक दिन घूमने के लिए ले गया।

उस दिन हम दोनों साथ में घूमने के लिए गए मुझे बहुत ही अच्छा लगा जिस तरीके से मैं और सुहानी एक दूसरे के साथ में समय बिता रहे थे। मुझे सुहानी के साथ समय बिताना अच्छा लग रहा था। मैंने उसके होठों को भी बहुत ही अच्छे से किस किया था। मैंने सुहानी को अपने साथ होटल में चलने के लिए कहा था वह मेरे साथ चलने को तैयार हो चुकी थी हम दोनों साथ में ही लेटे हुए थे मैं उसके होठों को चूमने लगा था और उसकी गर्मी को मैंने पूरी तरीके से बढा कर रख दिया था। उसकी गर्मी इतनी ज्यादा बढ़ने लगी थी वह बिल्कुल भी रह नहीं पा रही थी मैं भी बिल्कुल नहीं रह पा रहा था जिस तरीके से मैं और सुहानी एक दूसरे के साथ में सेक्स संबंध बना रहे थे हम दोनों को बड़ा अच्छा लग रहा था और सुहानी को भी बहुत ज्यादा मजा आने लगा था। मुझे और सुहानी हम दोनों को बहुत अच्छा लगने लगा था मैं जिस तरीके से सुहानी की गर्मी को बढ़ा रहा था और उस से वह बड़ी खुश थी और मैं भी बहुत ज्यादा खुश था।

अब हम दोनों ही एक दूसरे की गर्मी को बढ़ाए जा रहे थे जब मैंने सुहानी की योनि पर अपनी उंगली को लगाया तो मुझे अच्छा लग रहा था और उसकी चूत मचलने लगी थी। मैं जिस तरीके से उसकी योनि को सहला रहा था उससे मुझे मजा आने लगा था और सुहानी को भी बड़ा अच्छा लग रहा था। अब मैंने उसकी चूत को गर्म कर दिया था सुहानी की चूत से पानी निकाल आया था।

जब मैने अपने लंड को सुहानी की चूत पर टच किया तो उसकी चूत से पानी निकल आया था। मैंने सुहानी की योनि को चाटना शुरू किया उसकी चूत से बहुत ज्यादा पानी बाहर की तरफ से निकलने लगा था उसकी योनि में लंड लेने के लिए तैयार हो चुकी थी। वह मेरे लंड को सकिंग कर रही थी जिससे मेरी गर्मी बहुत ज्यादा बढ़ चुकी थी और उसकी गर्मी भी काफी ज्यादा बढ़ चुकी थी। वह बहुत ज्यादा गरम हो गई थी वह मुझे कहने लगी मेरी गर्मी को तुमने पूरी तरीके से बढा कर रख दिया है। मैं बहुत ही ज्यादा खुश हो गया था मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था अब सुहानी को भी मजा आने लगा था।

जब मैंने उसकी चूत में अपने लंड को घुसाया तो मेरा लंड उसकी योनि में घुसते ही वह बहुत जोर से चिल्लाने लगी और मुझे कहने लगी मुझे मजा आने लगा है। मैं उसे बड़े ही अच्छे से चोदता जा रहा था उसकी चूत की गर्मी को मैंने पूरी तरीके से बढा दिया था और उसकी योनि से निकलता हुआ पानी भी बहुत ही ज्यादा बढने लगा था। मुझे अच्छा लग रहा था मै और सुहानी एक दूसरे के साथ में सेक्स के मजे ले रहे हैं। उसकी चूत के अंदर बाहर मेरा लंड हो रहा था मुझे बड़ा अच्छा लग रहा था जिस तरीके से मैंने और सुहानी ने एक दूसरे की गर्मी को पूरी तरीके से बढा कर रख दिया था। मेरा मोटा लंड छिल चुका था।

मेरा लंड उसकी चूत की गर्मी को बिल्कुल भी झेल नहीं पा रहा था मैंने उसकी योनि के अंदर अपने माल को गिरा दिया था। सुहानी को बहुत मजा आया था लेकिन उसके बाद भी सुहानी और मैंने एक दूसरे की गर्मी को दोबारा से बढ़ा दिया था। मैंने उसकी चूत का मजा दोबारा से लिया जब मैंने उसे चोदना शुरू किया तो उसे बहुत ज्यादा मजा आने लगा था और उसने मेरा साथ बड़े अच्छे से दिया जिस तरीके से हम दोनों ने एक दूसरे के साथ में दोबारा से सेक्स संबंध बनाए थे उस से हम दोनों ही खुश थे। मुझे बड़ा अच्छा लगा था जब मैंने सुहानी के साथ सेक्स किया था और उसकी चूत की गर्मी को मैने शांत कर दिया था।

Best Hindi sex stories © 2017

Online porn video at mobile phone


sex storesantarvasna story with photoantarvasna hindi masexy kahaniyagroup sex indianbabe sexantarvasna story 2016sex stories indiansexkahaniyaantarvasna babaantavasanahindi sex filmdesi bhabhi boobsantarvasna real storyindian storiesdidi ki chudaisuhagraatreal antarvasnachahat moviegroup sex indiansavita babhirandi ki chudaiantarvasna gujaratiantarvasna 2016 hindiantarvasna sex imagechut ki chudaiantarvasna bhabhiantarvasna hindi 2016best incest pornantarvasna sexstorysexbfhindi sex kahanidesi sex pornantarvasandesi bhabhi ki chudaiantarvasna storiesantarvasna storiesantarvasna saliporn stories in hindimadam meaning in hindikipatnidesi chuchimaa ki chudaiantarvasna photos hotbhabi ki chudaiantarvasna hindi bhai bahanantarvasna gharhindi sexstorybhai newife swap sex?????? ?????suhagraatrandi sexxnxx sex storiesdesi sex porndesi bhabhi sexfree desi sex blogsex storieschachi ko chodababe sexantarvasna padosanmaa ki chudaiaunty sex storiesstories in hindiantarvasna hindi sex storyantarvasna ahindi sexy kahaniyadesi group sexbest indian sexsasur ne chodaantarvasna didi kisavita bhabiantarvasna chutkulebalatkar antarvasnachutxdesisex comics???? ?? ?????sexy kahaniasexy stories in tamilmastram sex stories