Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

चाची को चोदा उसकी बेटी के सामने

हैल्लो दोस्तों.. मेरा नाम सुबोध है और मेरी उम्र 28 साल और हाईट 5.11 इंच कलर साफ और में हर रोज अपने घर पर एक्सोसाइज़ करता हूँ.. जिससे मेरी बॉडी अच्छी दिखती है.. मेरा वजन 75 किलो और में जयपुर में एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता हूँ. दोस्तों मुझे मेरी उम्र की औरत से ज़्यादा बड़ी उम्र की औरत में ज्यादा रूचि है.

दोस्तों मेरी आज की कहानी मेरी चाची की चुदाई की है.. जिसमे मैंने अपनी चाची को चोदा और वो दिखने में एकदम हॉट सेक्सी उनकी बड़ी गांड, गोल चेहरा, गोरा रंग, पतली कमर, एकदम गोल बड़े बड़े बूब्स और वो जब भी चलती तो देखने वालों के लंड का पानी निकाल देती और वो हमेशा साड़ी पहनती है लेकिन जब कभी वो सलवार सूट पहनती तो उनका जिस्म हर किसी को अपनी और आकर्षित करता है. उनके दो लड़कियाँ होने के बाद भी वो बहुत सेक्सी और कुंवारी लड़की की तरह लगती थी.. चाची की उम्र 45 साल के करीब थी लेकिन वो फिर भी एक कयामत थी और वैसी ही उनकी लड़कियाँ थी और वो भी अपनी माँ के ऊपर ही गई थी और अब में सीधा अपनी आज की कहानी पर आता हूँ.

दोस्तों यह घटना तब घटी.. जब में अपने गाँव छुट्टियों में गया था और वहां पर में अपने दादा, दादी के घर पर रूका था और मेरे चाचा का अलग घर है और मेरे चाचा आर्मी में थे लेकिन उन्होंने अपनी मर्जी से अभी कुछ समय पहले ही रिटायरमेंट ले लिया था और इसलिए वो आजकल घर में ही रहते थे और उन्होंने एक प्राइवेट कम्पनी में सेक्यूरिटी गार्ड की नौकरी ले ली थी.. उनका शिफ्ट एक दिन पूरा चलता था.. मतलब वो सप्ताह में 3-4 दिन काम के लिए जाते थे.

तब मेरी चाची और मेरे चचेरी बहन घर पर रात में अकेले रहते थे और उन्हे अकेले में कोई भी दिक्कत नहीं थी लेकिन उस समय मेरी किस्मत बहुत अच्छी थी.. क्योंकि जब में वहां पर गया तो उन्ही दिनों में उनके घर के पास एक चोरी हुई.. इसलिए चाचा ने कुछ दिनों के लिए रात में मुझे उनके पास रुकने को कहा.. जिस रात को चाचा घर पर नहीं होते थे तो उस रात को में वहां पर रुकता था. फिर एक दो दिन तो एकदम ठीक गुजरा लेकिन मेरा मूड वहां पर हमेशा चड़ा हुआ रहता.. क्योंकि में तीन तीन देवियों के बीच में अकेला था और कभी कभी मन करता था कि तीनों को एक साथ एक ही बेड पर लेटाकर चोद दूँ लेकिन मुझे डर था कि मेरे घर पर इस बात का पता चल गया तो मुझे बहुत मार पड़ेगी और बदनामी भी होगी.. इसलिए में एकदम चुप रहता था.

तभी उसी बीच एक प्लान मेरे दिमाग़ में आया.. मेरी दादी को रात में ठीक से नींद नहीं आती थी तो इसलिए वो हर रात को नींद की गोली खाती थी और उनकी उम्र के कारण उन्हे याद नहीं रहता कि उसमे अब कितनी गोलियाँ बची है तो मैंने मौका देखकर 5-6 गोलियाँ निकाल ली और चुपचाप रात होने का इंतजार करने लगा और जब रात को में उनके घर पर गया तो में यह सोचने लगा कि अब यह नींद की गोलियाँ इन तीनों को कैसे दूँ.. फिर खाना खाते समय मुझे मौका मिला कि वहां वो लोग जग में पानी पीते थे और मैंने मौका मिलते ही वो गोलियाँ उस पानी में मिला दी और देखने लगा कि वो तीनों उसमे से पानी पीती है कि नहीं तो फिर चाची ने सबसे पहले पानी पिया और उसके बाद छोटी वाली बेटी ने पिया और बड़ी वाली ने खाना खा लिया था और उसने किचन में ही पानी पी लिया लेकिन उसने उसमे पानी नहीं पिया.. मेरी चाची अलग रूम में सोती है और मेरी बहन अलग रूम में तो में यह सोचने लगा कि अगर तीनों से नहीं तो कम से कम एक के साथ तो आज सेक्स जरुर करके रहूँगा और में वहां पर हॉल में सोता था और वो लोग बाकि दो बेडरूम में और फिर में हॉल में सोफे पर बैठकर टीवी देखने लगा और मेरी दोनों बहन, चाची भी मेरे पास बैठकर टीवी देख रही थी.

तभी कुछ ही देर के बाद चाची बोलने लगी कि उनको बहुत नींद आ रही है और फिर वो सोने चली गयी और छोटी वाली बहन भी टीवी देखते देखते वही नशीले अंदाज़ में सोने लगी तो में समझ गया कि शायद नींद की गोलियों का असर हो रहा है और वो भी उठकर सोने चली गई.. में अपनी दूसरी बहन के साथ टीवी देखकर कुछ बात करने लगा और में इंतजार कर रहा था.. चाची के गहरी नींद में सोने का और फिर कुछ देर बाद हम दोनों भी टीवी बंद करके सोने चले गये और कुछ एक घंटे बाद में धीरे से उठा और अपना फोन उठाकर चाची के रूम में गया.. क्योंकि में उस खुबसूरत लम्हे को पूरा अपने मोबाईल में कैद करना चाहता था और मुझे लगा कि अगर चाची को सुबह पता चल गया तो में उनको वो वीडियो दिखाकर शांत कर सकता हूँ.

फिर जब में चाची के बेड तक पहुंचा और उन्हें छुआ तो वो नहीं हिली और वो अब गहरी नींद में सो रही थी और उन्होंने सफेद कलर की मेक्सी पहनी हुई थी और फिर मैंने धीरे से चाची को आवाज़ दी.. उन्होंने मुझे कोई जवाब नहीं दिया और मैंने उनका एक हाथ पकड़ा और ज़ोर से हिलाया लेकिन फिर भी कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई और अब में समझ गया कि वो उस गोलियों के कारण मस्त गहरी नींद में सो रही है. फिर मैंने बिना टाईम खराब किए धीरे से उनकी मेक्सी के ऊपर के बटन को खोल दिया.. उन्होंने काली कलर की जालीदार ब्रा पहनी हुई थी तो मैंने धीरे से उनके दोनों बूब्स को बाहर निकाला.. उनके निप्पल एकदम भूरे कलर के थे और में बूब्स पहली बार देख और छू रहा था.

तभी मेरा लंड तनकर एकदम कड़क हो गया.. फिर मैंने उनके दोनों बूब्स को बारी बारी से दबाया और वो बहुत बड़े बड़े, मुलायम थे और अब मुझसे रहा नहीं गया और में उसे चूसने लगा.. मुझे धीरे धीरे उनके निप्पल खड़े होते हुए लगे तो मुझे लगा कि वो नींद से उठ गयी है लेकिन वो मस्त सो रही थी और मेरे बूब्स चूसने की वजह से शायद वो गरम हो रही थी. फिर मुझे उनकी मेक्सी बहुत सता रही थी तो मैंने निर्णय लिया कि में पहले चाची को पूरा नंगा करूँगा और फिर उसके बाद मज़े लूँगा.

फिर में धीरे से चाची की मेक्सी को उनकी जांघो के ऊपर ले गया और अब उनकी गोरी गोरी जांघो को देखकर मुझसे रहा नहीं जा रहा था.. उनके पैर एकदम चिकने थे और उस पर एक भी बाल नहीं था और शायद उन्होंने कुछ दिन पहले ही बाल साफ किये होंगे. फिर मैंने उनकी मेक्सी को थोड़ा और ऊपर किया तो देखकर में एकदम दंग रह गया.. उन्होंने नीचे कुछ नहीं पहना था और मुझे उनकी चूत साफ दिखाई देने लगी. दोस्तों में अपनी लाईफ में पहली बार किसी औरत की चूत को अपनी नजरों के एकदम सामने देख रहा था.

मैंने फिर मेक्सी को पूरा उतार दिया और उनको उल्टा करके उनकी ब्रा को भी निकाल दिया और अब चाची एकदम मेरे सामने नंगी लेटी हुई थी तो मैंने अपना मोबाईल बाहर निकाला और वीडियो मोड में डालकर उसके पास में रख दिया और फिर अपने सभी कपड़े उतारकर चाची के पैर चूमने लगा.. फिर में धीरे धीरे उनके पैरों को और भी चूमने लगा और फिर उनकी चूत तक पहुंच गया. तभी मैंने देखा कि उनकी चूत थोड़ी गीली हो चुकी थी लेकिन मुझे समझ में नहीं आ रहा था कि वो सो रही है या सोने का नाटक कर रही है और अब में पूरा गरम हो चुका था और इसलिए मुझसे रहा नहीं गया और में उनकी चूत को चाटने लगा और उनकी चूत की स्मेल से में और गरम हो रहा था.

फिर मैंने उनके दोनों पैरों को उठाकर उनकी गांड को भी चाटा और उस समय मुझे इतना जोश चड़ा हुआ था कि में कुछ नहीं दिख रहा था. फिर में उनके बूब्स को चूसने लगा और उसके बाद मुझसे रहा नहीं गया और मैंने अपने लंड को उनकी चूत के दरवाजे पर रख दिया और एक दो बार के धक्के के बाद वो पूरा लंड उनकी चूत में घुस गया और मैंने धीरे धीरे उनको चोदना शुरू किया और उनकी चूत एकदम गीली होने के कारण पचपच की आवाज़ आने लगी और वो धीरे धीरे सिसकियाँ लेने लगी लेकिन में उनको लगातार धक्के देकर चोदे जा रहा था तो कुछ देर चुदाई करने के बाद में झड़ने वाला था तो इसलिए मैंने अपनी स्पीड बड़ाई और मेरा पूरा वीर्य उनकी चूत में डाल दिया और में उतरकर उनके पास में लेट गया.

दोस्तों में यह सुंदर मौका अपने हाथ से नहीं जाने देना चाहता था.. इसलिए मैंने फिर 10 मिनट के बाद उनको उल्टा किया और उनकी गांड में लंड डालने लगा और शायद उनकी गांड का छेद छोटा था तो इसलिए लंड ठीक से नहीं जा रहा था तो में उठा और उनकी अलमारी से वेसलीन लाया और थोड़ा गांड में और अपने लंड पर लगाया और लंड फिर से गांड पर रखकर धीरे धीरे धक्का देकर घुसाने लगा और इस बार लंड आधा घुस गया. फिर मैंने थोड़ा और ज़ोर लगाया तो पूरा का पूरा लंड फिसलकर अंदर चला गया और में उनको चोदने लगा.

फिर 10-15 मिनट तक चोदने के बाद में उनकी गांड में झड़ गया और फिर में उनकी गांड से अपना लंड बाहर निकालने लगा तो मैंने देखा कि मेरी बड़ी बहन है और वो दरवाजे के पास खड़ी होकर ना जाने कब से यह सब देख रही है.. में एकदम चौंक गया और मुझे लगा कि अब मेरी खैर नहीं और अब पूरे घर में सबको पता चल जाएगा लेकिन मैंने उसको समझाया कि मैंने पूरा वीडियो बना रखा है और अगर उसने किसी को भी यह बात बताई तो में उसकी मम्मी का यह वीडियो सबको दिखा दूँगा लेकिन वो एकदम शांत खड़ी होकर मेरी बात सुन रही थी. फिर उसने मुझसे पूछा कि मेरी मम्मी चुपचाप क्यों हो रही है तो मैंने उसको नींद की गोलियों वाली बात बताई और उससे कहा कि बस उसने ही वो पानी नहीं पिया था तो वो मेरी यह बात सुनकर बहुत गुस्सा हो गई लेकिन अब वो मुझसे सामान्य व्यहवार करती है.

Updated: August 24, 2015 — 3:25 am
Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


antarvasna video in hindihindi sexnew hindi sex storyfaapymy hindi sex storyantarvasna hindi storechachi antarvasnaantarvasna hindi moviehindi storyindian best pornantarvasna audio storyantarvasna chachi bhatijawww antarvasna cominchachi ki chudaitamil aunty sex storiessexi storiessexy story hindimausi ki antarvasnaantarvasna com marathiaunty antarvasnasite:antarvasna.com antarvasnaantarvasna maa bete kichudai ki storyauntys sexmeri chudaichudai ki kahanixossip requestsex in junglehotest sexxossip storiesantarvasna hindi sex storiesindian sexzaunty sex with boysex antyssexi story in hindixxx auntytoon sexantarvasna marathienglish sex storyhindi sx storychut ki kahanisex story.comantarvasna gujaratiantarvsanaindian sex storesfree indian sex storiesdesi sex storybhabhisexhindi antarvasna photossex with bhabiantarvasna doodhantarvasna didi ki chudaisex storiesantarvasna ki kahani in hindimeri chudaiwww antarvasna comantarvasna hindi sexy stories comantarvasna baapanuty sexanterwasanasex bhabhibhabhi sex storyantarvasna marathi storyantarvanaanita bhabhisuhagrat antarvasnaantarvasna com kahanihotel sexsite:antarvasna.com antarvasnatop sexxossipyholi sexantarvasna hindi photoantarvasna hindi sexy kahaniantarvasna hindi kahani storiesdesi group sexdidi ki antarvasnadesi sexy stories