Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

दिशा के मुलायम होठों का मजा

Antarvasna, hindi sex kahani: पापा और मम्मी चाहते थे कि मैं शादी कर लूं लेकिन मैं दिशा को पसंद करता हूं। दिशा हमारी कॉलोनी में ही रहती है और मुझे वह बहुत ज्यादा पसंद है परंतु मैंने कभी भी दिशा से ज्यादा बात ही नहीं की। हम लोगों का परिचय एक दूसरे से तो है लेकिन हम दोनों एक दूसरे को कभी अपने दिल की बात नहीं कह पाए थे शायद यही वजह थी कि मैं किसी और से शादी नहीं करना चाहता था। मैं दिशा को बहुत पसंद करता हूं दिशा जब भी शाम के वक्त अपने ऑफिस से लौटा करती तो मैं उसे हमेशा ही देखा करता था। वह भी जब मुझे देखती तो उसे भी बहुत ज्यादा अच्छा लगता था और मुझे भी दिशा को देखकर काफी अच्छा लगता। समय के साथ अब मुझे भी लगने लगा था कि मुझे दिशा से अपने दिल की बात कह देनी चाहिए लेकिन दिशा का परिवार अब हमारे पड़ोस से अपनी प्रॉपर्टी बेचकर दूसरी जगह रहने वाले थे। जब मुझे इस बारे में पता चला तो मुझे काफी बुरा लगा लेकिन अब समय निकल चुका था और मैं चाहता था कि दिशा से मैं एक दिन अपने दिल की बात कह दूं।

एक दिन मुझे वह मौका मिल ही गया जब दिशा से मैंने अपने दिल की बात कह दी उस वक्त मैं दिशा से पार्क में मिला था। उस दिन मैं जल्दी उठ गया था और मैं टहलने के लिए पार्क में चला गया। मैं टहलने के लिए पार्क में गया तो वहां पर मेरी मुलाकात दिशा से हुई और मैं इस मौके को बिल्कुल भी छोड़ना नहीं चाहता था। मैं चाहता था कि मैं दिशा से अब अपने दिल की बात कह डालूंगा और मैंने उस दिन दिशा से बात की। ना जाने उस दिन मेरे अंदर इतनी हिम्मत कहां से आ गई और मैंने दिशा को अपने दिल की बात कह दी। जब मैंने दिशा से अपने दिल की बात कही तो उसने मुझसे कुछ नहीं कहा और वह वहां से चली गई। मुझे भी लगा कि शायद यह मेरी तरफ से ही था इसलिए मैं भी इस बात को भूलने लगा था। दिशा की फैमिली भी अब हमारे पड़ोस में नहीं रहती है और काफी लंबे अरसे तक मेरी दिशा के साथ कोई भी बात नहीं हुई। ना तो मैं दिशा से मिल पाया था और ना ही दिशा मुझसे मिली थी मैंने सोचा कि शायद अब मुझे दिशा को भूल ही जाना चाहिए और मैंने उसे भूल कर अब आगे बढ़ने का फैसला कर लिया था।

मैं अपनी नौकरी में पूरी तरीके से ध्यान दे रहा था और मेरी जिंदगी में सब कुछ ठीक से चल रहा था। पापा भी अब रिटायर होने वाले थे और वह चाहते थे कि वह अपने रिटायरमेंट की पार्टी रखे इसलिए उन्होंने मुझे सारी जिम्मेदारी सौंपते हुए कहा कि बेटा तुम्हें ही सब कुछ संभालना है। मैंने पार्टी का सारा अरेंजमेंट खुद ही किया पार्टी का अरेंजमेंट हो चुका था और हमारे काफी रिश्तेदार भी उस पार्टी में आए हुए थे। पापा भी बहुत ज्यादा खुश थे जिस तरीके से हम लोगों ने पार्टी का अरेंजमेंट किया था उससे पापा बड़े ही खुश थे। पापा अपने रिटायरमेंट के बाद ज्यादातर समय घर पर ही रहा करते थे और मुझे भी बहुत ज्यादा अच्छा लगता जब भी मैं अपनी फैमिली के साथ में होता हूं। एक दिन हम लोगों ने साथ में घूमने का फैसला किया और उस दिन पापा और मम्मी के साथ मैं शॉपिंग करने के लिए चला गया। पापा ने मुझसे कहा था कि बेटा आज हम लोग कहीं शॉपिंग करने के लिए चलते हैं तो मैं उस दिन पापा मम्मी के साथ गया और इत्तेफाकन उस दिन मेरी मुलाकात दिशा के साथ में हो गई।

जब मेरी मुलाकात दिशा से हुई तो मेरी उससे ज्यादा बात नहीं हुई और वह वहां से चली गई लेकिन मैं दिशा के बारे में सोच रहा था और उस रात मेरी आंखों से नींद गायब थी। मैं यही सोच रहा था कि क्या उस दिन मैंने यह सही किया मुझे दिशा को अपने दिल की बात कहनी चाहिए थी या नहीं। यह मेरे दिमाग में घूम रहा था और मुझे उस रात नींद ही नहीं आ रही थी मैं बहुत ही ज्यादा परेशान था। जिस तरीके से मैं और दिशा एक दूसरे को मिले थे उससे मैं बहुत ही ज्यादा परेशान हो गया था। अगले दिन मुझे अपने ऑफिस भी जाना था और मैं सुबह जल्दी तैयार होकर नाश्ता कर के अपने ऑफिस के लिए निकल गया। जब मैं ऑफिस के लिए गया तो उस दिन मुझे बहुत ही ज्यादा काम था और मैं ऑफिस में ही था। जब मैं ऑफिस से उस दिन घर के लिए लौट रहा था तो मुझे रास्ते में दिशा मिली और दिशा ने मुझसे बात की।

मैंने तो कभी सोचा भी नहीं था कि उससे मेरी बात हो भी पाएगी या नहीं लेकिन मेरे लिए यह उस वक्त किसी भी खुशी से कम नहीं था। मैंने दिशा से बात की और दिशा मेरे साथ में कुछ समय बिताना चाहती थी हम दोनों कॉफी शॉप में चले गए और वहां पर हम दोनों ने काफी देर तक एक दूसरे से बातें की। हालांकि दिशा ने हीं मुझसे उस दिन के बारे में कोई भी बात नहीं की और हम दोनों करीब दो घंटे तक साथ में रहे और फिर दिशा वहां से चली गई। दिशा वहां से तो जा चुकी थी लेकिन मुझे इस बात की खुशी थी कि मैंने दिशा से अपने दिल की बात कह दी थी और मैं बहुत ही ज्यादा खुश था। समय के साथ-साथ अब हम दोनों एक दूसरे के बहुत ज्यादा करीब आते जा रहे थे और हम दोनों एक दूसरे को बहुत चाहने लगे थे। यही वजह थी कि दिशा और मैं एक दूसरे से प्यार करने लगे थे और हम दोनों एक दूसरे के बिना बिल्कुल भी रह नहीं पाते थे।

जब भी मुझे दिशा की जरूरत होती तो वह हमेशा ही मेरे साथ खड़ी नजर आती और मुझे भी इस बात की बहुत ज्यादा खुशी थी कि दिशा मुझे बहुत ज्यादा प्यार करती है। हम दोनों का प्यार दिन ब दिन बढ़ता ही जा रहा था और मेरे लिए यह बड़ी खुशी की बात थी जिस तरीके से दिशा और मैं एक दूसरे को प्यार करते हैं और एक दूसरे के साथ में हम दोनों समय बिताते हैं। मैं इस बात से बड़ा ही खुश था और दिशा भी बहुत ज्यादा खुश थी जिस तरीके से हम दोनों ने एक दूसरे के साथ में समय बिताया था और एक दूसरे को हम लोग बहुत ही अच्छी तरीके से समझने लगे थे। दिशा और मेरा रिलेशन अच्छे से चल रहा था। हम दोनों अब सेक्स के लिए तडपने लगे थे। जब पहली बार हमारे बीच सेक्स हुआ तो मैं काफी ज्यादा खुश था और दिशा को भी मेरे साथ सेक्स करने मैं बहुत ही मजा आया था। मैने दिशा को अपने घर पर बुलाया था वह घर पर आ गई थी। हम दोनो की रजामंदी से हमारे बीच सेक्स हुआ था। हम। दोनो साथ मे थे। हम दोनो साथ मे लेटे थे। मैं दिशा से चिपकने लगा था।

मेरा हाथ जब दिशा के स्तनों पर लगने लगा मै गरम होने लगा था वह भी गरम होने लगी थी। मैं दिशा के स्तनों को दबाने लगा था मुझे बहुत ही मजा आने लगा था जब मै उसके स्तनो को दबाता। हम दोनों ने एक दूसरे के साथ खूब जमकर मजा लेने के बारे में सोच लिया था। मैं उसके होठों को चूम रहा था और मुझे आशा के गुलाबी होंठों का रसपान कर के मजा आ रहा था। दिशा को भी मजा आने लगा था और मुझे भी मजा आ रहा था जिस तरीके से वह मेरे होठों को चूम रही थी।

मैंने अब उसके स्तनों को दबाना शुरू किया तो दिशा भी गरम हो गई और वह अपने कपड़े उतारने लगी थी। वह अब अपने कपड़े उतार चुकी थी मैंने उसकी ब्रा खोली और उसके गोरे स्तनों की तरफ देखा मैं अपने आपको रोक नहीं सका मैं उसके स्तनों का रसपान करने लगा था। मैं उसके निप्पल को जिस तरह से चूस रहा था उससे वह मुझे कहने लगी तुम ऐसे ही मेरे स्तनो को चूसते रहो। मैं उसके गोरे हो स्तनों को चूमता जा रहा था और उसकी चूत से पानी निकलता जा रहा था उसको बड़ा मजा आने लगा था। अब मुझे भी बहुत ही अच्छा लग रहा था जिस तरीके से वह मेरा साथ दे रही थी और अपने पैरो को आपस मे मिलाने लगी थी।

मैंने दिशा की जींस को नीचे उतारने का फैसला किया और उसकी जींस को नीचे उतार फेंका। जब मैंने उसकी पैंटी को नीचे उतारा तो मुझे उसकी गोरी चूत दिख अच्छा लग रहा था उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था। उसकी गोरी चूत देख मेरा मन उसकी चूत चाटने का हुआ और मै उसकी चूत को चाटने लगा था। उकाफी देर तक उसकी चूत को चाटने के बाद मैंने उसकी योनि में लंड को लगाया और उसकी चूत के अंदर लंड को डालने लगा। उसकी टाइट चूत मे मेरा लंड जा ही नहीं रहा था मैंने अब उसके दोनो पैरों को खोल लिया था। मैंने जब उसके पैरों को खोल तो मेरा लंड दिशा की चूत मे जाने लगा था अब मैंने उसे चोदना शुरु कर दिया था वह बहुत जोर से चिल्लाने लगी मेरा लंड उसकी योनि के अंदर तक चला गया था।

मुझे मजा आने लगा था अब हम दोनों एक दूसरे के साथ जमकर सेक्स के मजे लेने लगे थे और दिशा की योनि से खून निकल रहा था। मुझे उसे चोदने में मजा आ रहा था। हम दोनों ने एक दूसरे के साथ जमकर सेक्स किया। काफी देर तक हम दोनों ने एक दूसरे के साथ सेक्स के मजे लिए जब मेरा वीर्य पतन दिशा की चूत मे हो गया तो हमने कपड़े पहन लिए। फिर हम दोनो लेटे रहे और बाते करने लगे थे मुझे दिशा की चूत का मजा लेकर अच्छा लगा। वह मुझे कहने लगी कही कुछ होगा तो नहीं। मैने उसे कहा कुछ नही होगा तुम्हे चिंता करने की जरूरत नहीं है। अब वह भी खुश थी और मै भी खुश था। दिशा ने मुझे कहा मै चलती हूं उसके बाद वह चली गई थी। हम दोनो के बीच अक्सर सेक्स संबध बन ही जाता है और वह भी बडी खुश है जिस तरह हमारे बीच सेक्स संबध बनते है।

Best Hindi sex stories © 2017

Online porn video at mobile phone


antarvasna hindi 2016indian femdom storiesmaa ki antarvasnasex storiesgujarati sex storiessexy hindi storiessexi kahanisasur ne chodaantarvasna sasur bahusavitha bhabhiantarvasna maa bete ki chudaiantarvasna sex photosantarvasna audio sex storyindian sexxxantarvasna chudai kahanimami ki chudai antarvasnaantarvasna hindi chudaijabardasti chudaidehati sexantarvasna audio sex storywww antarvasna hindi sexy story comwww. antarvasna. comhot indian auntiesantarvasna hindisexstoriesdesi chudai kahaniantarvasna picantarvasna story 2015indian sex stories in hindi fontantarvasna sex hindidesi blow jobantarvasnahot kiss sexantarvasna storieschudai ki khaniantarvasna hindisexstorieschudai storiesmastaramkamsutra sexindian sex websitesbhabi sexantarvasna hindi sex videoexbii storiesantarvasna schoolnew antarvasna in hindiantarvasna c9mantarvasna.hotest sexantarvasna website paged 2sister antarvasnadidi ki chudaisex auntiessexy stories in tamilwww antarvasna in hindiantarvasna story with imageantarvasna lesbianantarvasna hindi hot storyboobs sexyantarvasna gay videoantarvasna audio storyantarvasna hindi sexy stories combest sex storiesantarvasna hindi sex storyantarvasna hindi kahaniyaantarvasna chudai videoantarvasna sexy photosex khanifajlamiantarvasna hindi manangi bhabhiwww. antarvasna. com