Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

एक सच्ची चुदाई की कहानी-2

sex stories in hindi फिर उस दिन के कुछ दिन के बाद दोपहर के समय चाची ने मुझसे कहा कि मेरी एक दोस्त के घर पर एक छोटी सी पार्टी है इसलिए में वहां जा रही हूँ तुम खाना खाकर सो जाना, क्योंकि में रात को थोड़ा देरी से आऊँगी और हो सकता है कि अगर में वहां पर ज्यादा लेट हो गई तो में रात को भी ना आऊँ और मुझे आने में दूसरा दिन भी लग सकता है। फिर मैंने कहा कि हाँ ठीक है, में सब काम ठीक तरह से कर लूँगा और चाची मुझसे यह बात कहकर वहां से चली गयी। थोड़ी देर के बाद में भी अपनी कार को लेकर चाची के पीछे पीछे चल दिया और में एक शॉर्टकट की वजह से चाची से पहले ही वहां पर पहुंच गया और उस मकान के पीछे एक छोटा सा पार्क है मैंने अपनी गाड़ी को वहीं पर खड़ा कर दिया और उसके बाद में पार्क से बाहर निकल गया उसके बाद में उस घर के पीछे पहुंच गया। मैंने हल्की से उस खिड़की को खोल लिया, क्योंकि उसी खिड़की से उस घर के अंदर का पूरा नज़ारा बड़े आराम से देखा जा सकता था। अब मैंने देखा कि वो आदमी अंदर बैठा हुआ था इतने में मेरी चाची भी वहां पर पहुंच गई वो चाची को देखकर खुश होने लगा और उठकर उसने सबसे पहले घर का दरवाज़ा बंद कर लिया। उस समय मेरी चाची थोड़ी सी घबराई हुई थी, इसलिए वो चाची को अपनी बाहों का सहारा देकर अंदर ले गया जहाँ पर बेड लगे हुए थे। फिर वो चाची को एक अजीब नजर से देखने लगा और उसके बाद वो चाची की साड़ी को उतारने लगा। चाची उसको चुपचाप देखने लगी थी और उसने मेरी चाची की पूरी साड़ी को बस एक मिनट में ही उतार दिया और उसके बाद चाची के दोनों कंधो को पकड़कर पीछे वाली दीवार की तरफ एकदम सटा दिया।

अब चाची अपने आप को धीरे धीरे छुड़वाने का प्रयास करने लगी, लेकिन वो नामुमकिन था वो बहुत ही दमदार अच्छे शरीर वाला था। वो चाची की गर्दन पर चूमते हुए उनको प्यार करने लगा था और उसके बाद उसने सही मौका देखकर चाची का ब्लाउज खोलकर दूर फेंक दिया। फिर मैंने अपनी चकित नजरों से देखा कि चाची के वो बड़े आकार के लटकते हुए बूब्स उनकी ब्रा से बाहर निकलने के लिए पूरी तरह से तैयार थे। अब उसने चाची के पेटीकोट का नाड़ा भी खोल दिया जिसकी वजह से वो पेटीकोट उतरकर नीचे आ गया और चाची की गांड दिखने लगी उस समय चाची बस अपनी ब्रा, पेंटी में खड़ी हुई किसी सेक्सी मॉल की तरह बड़ी ही कामुक आकर्षक लग रही थी और उनका वो रूप देखकर अब मेरे लंड ने भी अपना आकार बदलकर उनकी चूत को सलामी देना शुरू कर दिया था, क्योंकि वो काले रंग की ब्रा, पेंटी अपने गोरे बदन पर चिपकाए हुए काम देवी नजर आ रही थी। फिर चाची ने उससे कहा कि आज आप मेरे साथ ऐसा मत कीजिए, मुझे उस दिन भी बहुत तेज दर्द हुआ था और मेरी कई दिनों तक चलने की चाल ही एकदम बदल गई थी। तो उसने कहा कि आज तुम इतने दिनों के बाद तो आज मेरी पकड़ में आई हो, आज में आपको बिना चुदाई किए कैसे छोड़ दूँ? इतना कहकर उसने तुरंत ही चाची की पेंटी में अपना एक हाथ डाल दिया और वो उनकी गांड को दबाने लगा। कुछ देर बाद चाची को भी थोड़ी थोड़ी मस्ती छाने लगी। फिर उसने चाची को अपनी गोद में उठाकर बेड पर लेटा दिया और चाची की ब्रा को खोल दिया, वो चाची के बड़े आकार के गोलमटोल बूब्स को देखकर एकदम हैरान हो गया और वो उन दोनों बूब्स को ज़ोर ज़ोर से चूसने दबाने लगा, जिसकी वजह से चाची करहाने लगी।

फिर वो कुछ देर बूब्स का मज़ा लेने के बाद अब चाची की पेंटी को उतारने लगा और चाची अपनी दबी हुई आवाज़ में उसका विरोध करने लगी थी, लेकिन फिर भी उसने चाची की पेंटी को उतार दिया उसके बाद चाची मोन करने लगी आह्ह्ह्ह ओह्ह्ह्ह। फिर उसने बिना देर किए अपने भी कपड़े उतारने शुरू किए और जैसे ही उसने अपना अंडरवियर उतारा तो चाची के मुहं से उसके मोटे लंबे लंड को देखकर ओह्ह्ह हाए राम इतना लंबा, यह तो मेरी चूत को उस दिन की तरह आज भी चोदकर चुदाई का पूरा बुखार उतार देगा, यह ऐसा बलशाली है और तभी तो मेरी चूत पूरे तीन दिनों तक दर्द से बहुत तड़पी, मुझे आज भी हल्का सा दर्द है निकल पड़ा। दोस्तों वैसे तो मैंने भी ऐसा मोटा लंबा लंड पहले कभी नहीं देखा था, क्योंकि उसका लंड करीब सात इंच लंबा और तीन इंच मोटा भी था। अब चाची ने उससे कहा कि तुम अब इसको मेरे अंदर मत डालना, मैंने पिछली बार इसको अपनी आखों से देखा होता तो में पहले भी दर्द से बच जाती, इससे मुझे बहुत दर्द होगा, प्लीज मुझे तुम अब घर जाने दो, लेकिन दोस्तों वो अब कहाँ मेरी चाची की कोई भी बात को सुनने वाला था? उसको तो अब चाची की चुदाई को कैसे भी खत्म करके अपने लंड को शांत करना था। तभी एक दूसरा आदमी टॉयलेट के अंदर से बाहर निकला। उसके हाथ में एक कैमरा था उसने उस कैमरे से उन दोनों के बहुत सारे फोटो निकाले।

चाची डर की वजह से उठने लगी तभी, उसने चाची को ज़ोर से धक्का देकर एक बार फिर से लेटा दिया और कहा कि तुझे ज्यादा उछलकूद करने की इतनी ज़रूरत नहीं है, यह मेरा एक बहुत अच्छा दोस्त है और यह भी तुम्हे देखकर तुम्हारे बारे में सोचकर मुठ मारता है, लेकिन आज यह भी अपनी प्यास बुझाएगा। अब वो दूसरा आदमी कहने लगा कि आज इस मैना को हम दोनों मिलकर पूरी रात जमकर इसकी चुदाई के पूरे मस्त मज़े लेंगे और इसकी मस्त चुदाई करेंगे। अब चाची उनको मना करने लगी और तभी उसने कहा कि आज की रात आप हमारी है और आपके ऊपर सिर्फ़ हम दोनों का पूरा पूरा हक है, इतना कहकर दूसरे आदमी ने भी अपने पूरे कपड़े तुरंत ही उतार दिए और अब वो भी बेड के पास आ गया और उसने चाची के होंठो पर अपने होंठ रखकर वो उन्हे चूसने लगा तो चाची छटपटाने लगी। उधर पहला आदमी अपना लंड लेकर एकदम तैयार खड़ा था और उसने चाची की गांड पर अपना लंड सटा दिया और फिर एक हल्का सा झटका मार दिया जिसकी वजह से मेरी चाची दर्द से चिल्ला उठी वो आईईईईई माँ में मर गई ऊफफ्फ्फ्फ़ मुझे बहुत तेज दर्द हो रहा है तुम मुझे अब छोड़ दो कहने लगी। तो दूसरे आदमी ने चाची के दोनों हाथ पकड़ लिए और उसी समय चाची के मुहं में अपना मोटा लंबा लंड डाल दिया, जिसकी वजह से वो ज़्यादा ज़ोर से आवाज निकालकर चिल्ला नहीं सके। अब पहले आदमी ने एक जोरदार झटका और मार दिया जिसकी वजह से उसका आधा लंड मेरी चाची की गांड को चीरता फैलाता हुआ अंदर चला गया।

दोस्तों उस दर्द की वजह से चाची अब पहले से ज्यादा तड़पने लगी थी, क्योंकि उनको वो दर्द अब सहना बड़ा मुश्किल होता जा रहा था और इतने में उसने एक दो झटके और मारे तो उसका पूरा का पूरा लंड अब चाची की गांड के अंदर चला गया, लेकिन चाची दर्द की वजह से छटपटाते हुए अपनी गर्दन को इधर उधर करने लगी। अब दूसरे आदमी ने अपना लंड चाची के मुहं के अंदर धीरे धीरे धक्के देते हुए उनके मुहं की चुदाई करना शुरू किया, मैंने देखा कि चाची को एक साथ दोनों तरफ से उन मोटे लंड के धक्के पड़ रहे थे और ऐसा करते हुए उसको अभी कुछ देर ही हुई थी। फिर उसने अपने लंड को बाहर निकाल लिया, लेकिन उसने अपने लंड से निकले पूरे वीर्य को चाची के मुहं में पहले ही निकाल दिया था। अब चाची ज़ोर से चिल्ला उठी उफ्फ्फ्फ़ आईईई प्लीज अब तुम इसको बाहर निकाल लो वरना में आज मर ही जाउंगी, देखो मेरी चूत का तुमने कैसे बेंड बजाया है मुझसे अब ज्यादा देर इसको सहा नहीं जाता, प्लीज अब बस भी करो, लेकिन उनके ऊपर चाची की किसी भी बात का कोई भी असर नहीं हो रहा था, इसलिए वो उनको वैसे ही तेज ज़ोरदार झटके मारने लगा था और करीब पांच मिनट के बाद वो भी अब धीरे धीरे शांत हो गया। तो में झट से समझ गया कि उसका वीर्य अब चाची की गांड में निकल चुका है और अब दूसरे की बारी थी। उसने भी चाची की गांड में जबरदस्ती अपने लंड को डालकर तेज तेज दमदार धक्के देकर उसकी वही हालत की जिसकी वजह से अब चाची बहुत थक चुकी थी और उसकी हालत बहुत खराब हो चुकी थी।

फिर वो धीरे चलकर टॉयलेट तक चली गई और उसके बाद बाहर आकर चाची ने अपने कपड़े पहन लिए, लेकिन उसी समय दूसरे वाले ने चाची को दोबारा से पकड़कर अपनी तरफ खींच लिया और उसने कहा कि कहाँ जाती है, मेरी जान असली मज़ा तो अभी भी बाकी है, अब तक हम दोनों ने आपकी मोटी गांड मारी है, अभी तो हमें आपकी चूत में अपने लंड को डालकर चुदाई करके अपने इस अमृत को आपकी इस चूत में भी डालना है और उन्होंने चाची को पकड़कर जबरदस्ती बेड पर लेटा दिया। दोस्तों मैंने देखा कि अब चाची की चूत भी गीली होकर चुदाई के लिए तैयार हो चुकी थी। वो मोटा और लंबा लंड और गोरी चूत का बिल्कुल सही मिलन था। अब पहले वाले आदमी ने अपना लंड चाची के मुहं में दे दिया उससे लंड को चूसने के लिए कहा और चाची भी अब उनका साथ देकर उसका लंड चूसने लगी और फिर दूसरे ने चाची की चूत पर अपने लंड को सटाकर एक ज़ोर का झटका मारकर अपने लंड को चाची की चूत में डाल दिया और हिलाने लगा। चाची उस दर्द की वजह से कांप उठी और दर्द की वजह से चाची की आखों में से आँसू निकल पड़े और थोड़ी देर के बाद वो शांत हो गया और फिर उसने चाची की गांड मारी और वो भी शांत हो गया। अब मैंने देखा कि चाची की गांड से सफेद सफेद क्रीम बाहर निकल रही थी। चाची की चूत भी तेज धक्को की वजह से सूज चुकी थी, वो एकदम लाल पड़ गई थी और क्रीम से पूरी भरी हुई थी। दोस्तों उन दोनों ने मेरी चाची को उस पूरी रात अपनी रंडी बनाकर कई बार हर तरह से चोदा। उन्होंने चाची की गांड चूत और उनके मुहं को भी चोदकर पूरी तरह से फैला दिया था और फिर वो दोनों चाची के साथ ही थककर सो गए और उन्होंने जो फोटो निकाले थे, उससे उन्होंने चाची को ब्लेकमेल करके उसको कई बार चोदा और अब तो मेरी चाची को भी उनका लंड लेने की आदत हो गई थी, इसलिए वो अब उनका बिल्कुल भी विरोध नहीं करती थी उनके साथ चुदाई के मस्त मज़े लेती ।।

धन्यवाद …

Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


sexy kahanidesi sexy storiessex khanikamasutra xnxxantarvasna gay sex storiesstory of antarvasnaantarvasna hot storiesantarvasna sexstoriesindian portmkoc sex storieshindisexstoryantarvasna busxxx story in hindiantarvasna com imagessasur bahu sexsex kathaluantarvasna with bhabhihindi antarvasna storyhot boobsantarvasna hindi sex storieshindi storylesbo sexsexcybrutal sexgay sex stories in hindiantarvasna hindi kahani storiessex story hindihindi sex kahaniadesi porn blogantarvasna bhai bahanantarvasna hindi newantarvasna best storyantarvasna hantarvashnadesi incestdesi sex sitesex kathaikalsasur ne chodaseduce meaning in hindigaandsavita bhabisex khaniyaandhravilassuhagrat antarvasnahindi sexy story antarvasnagroup xxxdesi aunty xxxsexkahaniyahindi sex filmantravasnasexy sareehot boobs sexantravasna.commomson sexindian desi sex storiesantarvasna sexy kahaniantarvasna picsbest sexhotel sexsex story in hindi antarvasnaantarvasna pornantarvasna indian hindi sex storiescudaidesi chudaisex in sareedesiporn?????? ?????sex hindi story antarvasnaantarvasna groupantarvasna newsex khaniantarvaasnabhabhi sex storyanuty sexantrawasnaipagal.net