Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

मां की जरूरत या चुत का सौदा

xxx kahani हाई दोस्तों, मेरा नाम दीनेश है और मैंने ऐसी अतरंगी हरकत की है की शायद आपने उसके बारे में कभी सोच भी ना होगा | मैं नॉएडा में सुखद जीवन – यापन कर रहा था और माता – पिता के साथ ही वहीँ के फ्लैट में रहता था | वैसे तो मैं अकसर एक दम शांत रहा करता था पर जब बात आई की कुछ दिनों के लिए मेरे पिता बाहर जा रहे थे तो ना जाने मेरे अंदर कुछ अजब सी चुदक भर गयी | मैंने दुनिया की हर चीज़ के मज़े लेना चाहता था और धीरे – धीरे मैंने दारु से धुम्रपान हर वो हरकत की जो कोई ना करता | कसर रह गयी थी तो बस एक चुत मारने की, मैंने बहुत कोशिश की एक लड़कियों को पटाने की ताकि उससे अपनी हवस निकाल सकूँ पर किसी भी आस – पास की लड़की ने मुझे घास तक नहीं डाली | मुझे बहुत अजीब – अजीब लगने लगा बस मेरी हालत इतनी बुरी गयी के कैसे भी किसी ना किसी लड़की की चुत मुझे मारनी ही थी |मै इंटरनेट पे चुदाई के विडीयो देख रहा था कुछ ही पल में मेरे रूम के दरवाजे की ओर कोई आ रहा था तो मैंने देखे की मां आई हुई थी | मैंने उदास होकर पी.सी बंद कीया मां ने मुझसे पैसे मांगे जिसपर जैसे ही मैंने मां को हवस की नझर से देखा तो वो मस्त मोटे चुचों वाली मेरी मां थी जिनकी गांड किसी गाडी के डिक्की की तरह निकली हुई थी | जब मैंने उनके ब्लाउस के उप्पर से दिख रहे उनके चुचों के बीच के गलियारे को देखा तो मेरा भेजा सटक गया | मैंने तभी उनसे कहा मैं – क्या हुआ मां. क्या चाहीये मां – बेटा वो कुछ पैसे चाहीये थे बडी जरूरत, गांव मे तेरी मौसी बहोत बीमार है उसे दवाईयो के लिए पैसे भिजवाने है । मैं – अच्छा बोलो .कितना चाइये . .?? मां – १००० रुपैये . . ! ! मैं – मैं चाहूं तो आपको १०,००० दे सकता हूं पर आप एक काम करे तो .?? मां – हाँ बोलो क्या काम है . .?? मै कूछ देर चुप रहा और हीम्मत जूटा के बोला। मैं – मुझे आपको नंगी कर के चोदना है . . ! ! मां – दीनेश तुम होश मे तो हो तुम्हे पता भी है तुम क्या कह रहे हो । मैं – पुरे होश मे कह रहा हूं मां , तुम्हे पैसों की जरूरत है और मुझे तुम्हारी सोच लो. मां – मुझे नही चाहीये तेरा पैसा मुझसे गलत काम करवाना चाहता है कुत्ते। मैं – मै आपकी बात का बुरा नही मानूंगा, पर आपको भी जरूरत है, मौसी की हालत बहोत खराब है, सोच लो मां कुछ घंटो की बात है, मै कभी आपको कीसी चीज की कमी नही होने दूंगा। मां अपना पल्लू मुंह पे पकडे रोने लगी कुछ देर बाद उसने आंसू पोछ लिए मां – पर बेटा अगर किसी को पता चला तो . ?? मैं – आप वो चिंता मत करो बस आज दिल खोल के मुझे खुश कर दो और मै आप को कीसी चीज की कमी नही होने दूंगा पैसा, कपडे, गहणे जो आपको चाहीये वो ला दुंगा | मां सीर झुकाये खडी थी। मैंने वक्त ना बर्बाद करते हुए उन्हे अपने बिस्तर पर ले गया और जाते ही उनके ब्लाऊस के उप्पर से ही चुचों को भींचते हुए उनके होठों को चूसने लगा | मैंने अब मां की साड़ी खोल दी और फटाफट उनके ब्लाउस और पेटीकोट को भी खोल दिया | मां ने कोई ब्रा नहीं पहना हुआ था | अब उनके मस्त नंगे आम जैसे चुचे मेरे सामने थे | मैं उनके चूचकों को साथ मस्ती में खेलने लगा | मैंने मां को नीचे लिटा दिया और उप्पर लेटकर उनके चुचों को चुसने लगा साथ ही अपने लंड की सख्ती को उनकी चुत के उप्पर मह्सुस कराने लगा |मां आंखे बंद कर लेटी हुई थी। मैंने मां की काली पैंटी को नीचे खींचते हुए उनकी की रसीली चुत की फांकों के बीच अपने मुंह को रख लिया और अपनी जीभ लहराने लगा जिसपर मां “उई सससस उईम्म्म्माआआअ ईउईम्म्माआआअ” करके सिसकियाँ भरने लगी | कुछ देर बाद मैंने मां की चुत में अपनी चारों उँगलियों को अंदर – बाहर करना शुरू कर दिया जिससे मां की चुत पूरी गीली हो गई । मैने तभी मेरी पैंट में से मेरा लंड निकाल मां के हथेली पर थाम दिया और मां अपने हाथों से लंड रगड़ने लगी और धीरे- धीरे मेरे लंड को मसलते हुए अपने मुंह में डाल चूसने लगी | मैंने अब खुद मां को बाजू में लिटाया और मां की टांगों के बीच में अपने लंड को घुसाते हुए उनकी चुत तक पहुंचा डाला |मेरे धक्कों में मेरा लंड मां की चुत में फिसल कर पूरा का पूरा जाने लगा | कुछ देर बाद मैंने उन्हे अपने उप्पर बिठाया और अपने लंड को उसकी चुत में टिकाते हुए अपने उप्पर बिठाकर कुदाने लगा | अब तो मैं सांतवें आसमान पर आ गया था पुरे जोश में मां की चुत में अपने लंड को बराबर आगे – पीछे कर जमकर चोदने लगा | मां भी अपने शरीर के इस हवस का मज़े लेते हुए कूद – कूद कर मेरे लंड को लेती हुई सिसकियाँ भर रही थी | जैसे ही जब मैं अपनी चरम सीमा पर पंहुचा मैंने अपने मुठ की पिचकारी मां की चुत में ही छोड़ दी | मां और मैं अब हाँफते हुए एक – दूसरे के बाजू में लेटे रहे और आखिर मैं नंगी मां के चूतडों को मसलते हुए चाटने लगा और जैसे – तैसे अपने आप को ठंडा किया | मैं बटवे को खोल के १५०० रुपैये मां को दिए और चुम लिया कहा आय लव यू मां, कीसी भी चीज की जरूरत पडे मुझे बताना बस मेरी प्यास बुझाती रहना मां और आज तक मैं मां को ३००० रुपैये हर महीने देता हूं गहने नई साडीयां दे कर चोदता हुआ आ रहा हूँ और कई बार उसे खूश कर के मां की मस्तानी गांड भी मार चुका हूं |

Best Hindi sex stories © 2017
error:

Online porn video at mobile phone


deshi chudaisuhagraatsabita bhabiwww hindi antarvasnadidi ko chodaantarvasna dudhantarvasna video clipssecretary sexgandi kahaniantarvasna storiessex chatdesi sexy storieschut sexbhabhi sex storiesantarvasna hindi sex storieshindi sex storeschudai ki kahaniya??ma antarvasnachudai ki kahanisabita bhabhifree hindi sex storyantarvasna with picturebest incest pornbhabhi sex storiesantarvasna maa bete ki chudaiantarvasna hindi story pdfwww antarvasna hindi kahanisex story hindikhet me chudaiantarvasna clipssex khaniyaantarvasna familyantarvasna rapebhavana boobsindian incest sexantarvasna rapbhosda??sex sagarmaa ki chudai antarvasnaxosipantarvashnaxxx sex storiessexy hindi story antarvasnachodnasexy auntiessex hindi storybap beti antarvasnaantarvasna bhabhi ki chudaihindi gay sex storiesantarvasna in audiobest sex storiesfree hindi sex storydesipornnew hindi sex storyporn story in hindiindian hindi sexdesi sex storytechtudxoosipantervasanaantarvasna oldantarvasna history in hindipapa ne chodagaandsexy teachernadan sexhot hot sexantarvasna sax storyassamese sex storiesindian wife sex storiesantarvasna hindi sexy kahaniyaantarvasna padosanhindi sexantarvasna bf??mademsasur ne chodaantarvasna 2017??sex hindi antarvasnaantarvasna ki chudai hindi kahanihindi porn storyhindi sexy kahaniyabhavana boobschudai ki kahaniyasavitha babhisex stories hindiantarvasna . com