Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

मेरी बीवी को बॉस ने बर्बाद कर दिया

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम रोहन है और में मुंबई में एक सॉफ्टवेर कंपनी में काम करता हूँ. करीब दो साल पहले प्रिया नाम की एक लड़की से मेरी शादी हुई थी. दोस्तों प्रिया एक बहुत ही सेक्सी सुंदर लड़की है, उसकी उम्र 28 साल और उसकी लम्बाई 5.7 है और उसके फिगर का आकार 32-28-34 है.

हम लोग एक दूसरे से बहुत प्यार भी करते थे, लेकिन बस इस घटना को में आज आप सभी को बताने जा रहा हूँ और इसके बाद हमारे जीवन में सब कुछ बदल गया. दोस्तों उस दिन मेरे ऑफिस में 31 दिसंबर की रात को एक पार्टी थी और वहां पर हम सभी काम करने वालों का परिवार भी हमारे साथ था.

शाम को करीब 7 बजे हम लोग पार्टी में जाने के लिए तैयार हुए, प्रिया ने उस समय एक काली कलर की साड़ी पहनी हुई थी और उसी रंग का गहरे गले का ब्लाउज जिसमें वो सच में बहुत हॉट सेक्सी दिख रही थी. में उसको देखकर बहुत चकित था और मन ही मन बहुत खुश भी था. हम लोग उस पार्टी में करीब 8 बजे पहुंच गये और वहां पर पहुंचने के बाद प्रिया को मैंने सबसे मिलवाया और फिर प्रिया को मैंने अपनी कंपनी के डिपार्टमेंट के बॉस से भी मिलवाया जिसका नाम नितिन है.

दोस्तों वो बहुत ही कमीना किस्म का आदमी है और वो मुझे बिल्कुल भी पसंद नहीं था, लेकिन बॉस होने की वजह से एक दूसरे से हमे बातचीत करनी पड़ती है, इसलिए मैंने प्रिया को नितिन से मिलाया और वो प्रिया को देखकर उसकी सुन्दरता की तारीफ करने लगे और वो उससे कहने लगे कि वाह प्रिया तुम तो बहुत सुंदर हो, तुम्हें देखकर तो हर किसी की नजर बस तुम पर ही अटक कर रह जाए.

फिर प्रिया उनके मुहं से अपनी कुछ ज्यादा ही तारीफ सुनकर बहुत ज्यादा खुश हो गई थी और फिर उसने हंसकर उन्हें तारीफ करने के लिए धन्यवाद बोला. फिर मुझे मेरे साथ काम करने वाले मेरे एक दोस्त ने बुलाया तो में थोड़ा दूर जाकर उससे बात करने लगा और वो अब मेरे बॉस नितिन से बहुत हंस हंसकर बातें कर रही थी और मुझे वो बात बिल्कुल भी अच्छी नहीं लग रही थी, लेकिन बॉस होने की वजह से में कुछ भी बोल नहीं पाया और में अपने गुस्से को शांत करता रहा.

फिर थोड़ी देर बाद मैंने प्रिया को अपने पास बुला लिया और फिर हम लोग खाना खाने चले गये और अब मैंने गौर करके देखा कि प्रिया बहुत खुश नज़र आ रही थी. मैंने उससे पूछा कि क्या हुआ तुम इतना खुश क्यों हो, बॉस तुमसे ऐसा क्या बोल रहा था? तो प्रिया ने मुझसे कहा कि कुछ नहीं वो तो मुझसे बस ऐसे ही इधर उधर की बातें कर रहे थे, हम लोग बातें करते हुए खाना खा रहे थे.

फिर हम लोगों ने उसके बाद ड्रिंक भी किया, लेकिन अब मैंने बहुत ध्यान से देखा कि नितिन बार बार मेरी पत्नी प्रिया पर नज़र मार रहा है और उसकी यह हरकत मुझे बिल्कुल भी अच्छी नहीं लगी और थोड़ी देर के बाद रात के 12 बज गये और अब हम सभी एक दूसरे को बधाईयाँ देने लगे और म्यूज़िक पर हम सभी एक साथ डांस भी कर रहे थे. तभी उसी बीच प्रिया ने मुझसे कहा कि में वॉशरूम से जाकर अभी आ रही हूँ तो फिर करीब दस मिनट के बाद भी वो वापस नहीं आई तो में उसे इधर उधर देखने के बाद अब वॉशरूम में ढूँडने चला गया, लेकिन मुझे वो वहां पर भी नहीं मिली, में उसे ना पाकर अब बहुत चिंतित हुआ और दोबारा सबके बीच में आ गया और सोचने लगा, लेकिन तभी मैंने देखा कि वो अब नितिन के साथ डांस कर रही थी और वो दोनों बहुत खुश नजर आ रहे थे.

फिर में उसकी इस हरकत से बहुत गुस्सा हो गया और फिर में उसके पास चला गया और मैंने उससे कहा कि तुम यहाँ पर क्या कर रही हो, में तुम्हें सभी जगह ना पाकर तुम्हारे लिए बहुत चिंतित था, तुम सीधी मेरे पास क्यों नहीं आई? तो वो मुझसे बोली कि अरे वो नितिन सर ने मुझे बीच में रुकने के लिए कहा, इसलिए में उनसे थोड़ा बात कर रही थी और बस.

दोस्तों में उसकी पूरी बात सुनकर उससे बहुत गुस्सा हो गया और फिर में वहां से चला गया, लेकिन वो मेरी नाराजगी मेरे चिल्लाने की वजह नहीं समझी और दो तीन मिनट के बाद वो भी मेरे पीछे पीछे आ गई. फिर मैंने उससे कहा कि मुझे अब घर जाना है तो उसने मेरे साथ चलने के लिए हाँ कहा और फिर हम दोनों अपने घर पर आ गए. फिर घर पर आकर मुझसे पूछा कि ऐसा क्या हुआ जो तुम मुझसे इतना गुस्सा हो और मैंने ऐसा क्या किया है? तो मैंने कहा कि तुम नितिन के साथ क्यों रह गई थी?

फिर प्रिया बोली कि तो उसमें ऐसा क्या हुआ? तुमको इसमें कोई समस्या है? तो तुम मुझे पहले ही बोल देते, अब तुम इतना गुस्से में क्यों हो गये हो? इसमे खराब क्या है? तो मैंने कहा कि कुछ खराब नहीं है जो तुम्हारा मन करे तुम करो और हम दोनों में इस बात को लेकर झगड़ा हो गया. उसके अगले दिन में अपने ऑफिस चला गया तो नितिन सर ने मुझे उसके रूम में बुला लिया और फिर उन्होंने मुझसे पूछा कि क्या यार प्रिया ठीक है? तो मैंने कहा कि हाँ सर और फिर वो बोले कि तुम्हारी पत्नी बहुत सुंदर है यार और में गुस्सा हुआ. फिर भी मैंने उससे कहा कि धन्यवाद सर और वो हंसने लगे, मुझे अब समझ में आ रहा था कि वो क्या बोलने की कोशिश कर रहे है और में वहां से चला गया.

फिर अपने घर पर आकर मैंने गौर किया कि प्रिया के व्यहवार में मेरे लिए अब तक बहुत बदलाव आने लगा था, वो मुझसे ठीक तरह से बात नहीं करती थी, वो मुझसे बहुत जल्दी हर किसी बात पर गुस्सा हो जाती थी और अब वो अपने फोन पर भी बहुत ज्यादा व्यस्त रहने लगी थी, क्योंकि वो अब कोई नौकरी भी ढूंड रही थी तो इसलिए मुझे लगा था कि वो उसमें व्यस्त है, इसलिए मैंने ऐसा कुछ नहीं सोचा.

एक दिन में अपने ऑफिस गया और कुछ देर बाद वो मुझसे फोन करके बोली कि मुझे नौकरी मिल गई है तो में बहुत खुश हो गया और मैंने उससे पूछा कि कहाँ पर तो वो मुझसे बोली कि एक कंपनी में तो मैंने कहा कि ठीक है, लेकिन दोस्तों कुछ दिन बाद से तो वो सच में बिल्कुल ही बदल गई.

वो शनिवार का दिन था और मुझे फिल्म देखने जाना था, इसलिए मैंने उससे कहा और फिर वो मुझसे बोली कि आज नहीं हम कल जाएँगे, आज मुझे अपने साथ काम करने वाली के साथ शॉपिंग करने जाना है. फिर मैंने कहा कि ठीक है और उसके बाद वो तैयार होने के लिए चली गई, तभी अचानक से मैंने उसका फोन उठाकर देखा तो उसमें एक मैसेज था और जिसमें लिखा था बेबी जल्दी से आ जाओ, में तुम्हारा इंतजार कर रहा हूँ और नाम लिखा था नीतू. फिर वो मुझसे बोली कि यार यह मेरी दोस्त है डरो मत तो में हंसने लगा, मुझे सच में कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था.

फिर उसके दूसरे दिन रविवार को हम लोग फिल्म देखने चले गये और सोमवार को जब में वापस अपने ऑफिस गया तो नितिन सर ने मुझे अपने पास बुलाया और वो मुझसे कहने लगा कि में एक बात कहूँ, रोहन क्या तुम्हें बुरा तो नहीं लगेगा, अगर में तुम्हारी बीवी को लेकर एक दिन फिल्म देखने चला जाऊँ?

दोस्तों मुझे बिल्कुल भी समझ में नहीं आ रहा था कि वो क्या बोल रहे है? और में उसे देखने लगा, तब वो मुझसे बोले कि रोहन में अब सीधी बात पर आता हूँ, मुझे तुम्हारी पत्नी बहुत अच्छी लगती है और में उसे बहुत चाहता हूँ और अब में उसे अपना बनाना चाहता हूँ और में तुम्हे उसके बदले में यहाँ का सीनियर मेंनेजर और उसके साथ में डबल पैसे भी दिलवा दूंगा. अब मैंने कहा कि बस बहुत हुआ सर, में आपके यहाँ पर काम करने वाला हूँ ना कि आपका नौकर और हाँ मेरी बीवी के बारे में आप ऐसा सोचना भी मत, क्योंकि वो बहुत ही अच्छी लड़की है.

तब वो मेरी बात को सुनकर ज़ोर ज़ोर से हंसने लगे और उन्होंने मुझसे कहा कि अरे रोहन तुम अब ज्यादा गुस्सा मत हो यार में तुम्हें एक बात बता दूँ, क्या तुम्हें पता है? प्रिया मेरे दोस्त की कंपनी में काम करती है और वो भी मुझे बहुत ही चाहती है और में अब क्या बोलूं? वो मुझे बस चाहती ही नहीं बल्कि मुझे संतुष्ट भी करती है और वो कई बार मेरी बन चुकी है यार हाहह वो बहुत मस्त है यार और अगर तुम्हें सच में अगर इस बात का सच्चा सबूत चाहिए तो तुम कल शाम को आ जाओ, में तुम्हें उसके साथ वो सब कुछ करते हुए दिखा दूँगा और मुझसे यह बात बोलकर वो ज़ोर से हंसने लगे. फिर मैंने उसकी शर्ट का कोलर पकड़ा और कहा कि मेरी प्रिया के बारे में ऐसी घटिया बात मत करो, में तुम्हें जान से मार दूंगा.

फिर उसके बाद वो मुझसे बोले कि अबे साले अब ज्यादा नाटक मत कर तुझे तेरी बीवी का असली रूप देखना है तो कल मिल और में उसे तेरे सामने. फिर मैंने कहा कि बस और मत कहो ठीक है, में जरुर आऊंगा और अपनी आखों से देखूंगा, लेकिन अगर यह सब झूठ हुआ तो नितिन वो तुम्हारी जिन्दगी का आखरी दिन होगा. दोस्तों अब मुझे कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था कि में क्या करूं और मुझे गुस्सा भी बहुत आ रहा था और थोड़ा सा शक भी हो रहा था, लेकिन मैंने घर पर जाकर प्रिया को कुछ नहीं बोला, क्योंकि वो सच मुझे जानना था और इसलिए चुप रहा और फिर अगले दिन सुबह प्रिया अपने ऑफिस चली गयी, लेकिन में नहीं गया, शाम को 5 बजे नितिन ने मुझे कॉल किया और कहा कि आजा मेरे फार्म हाउस पर अपनी पत्नी की चुदाई अपनी आखों के सामने देखने के लिए. अब मुझे लगा कि वो मुझे फंसाने की कोशिश कर रहा है, ऐसा कुछ हो ही नहीं सकता. फिर में शाम को 6 बजे उसके फार्म हाउस पर पहुंच गया.

दोस्तों उसका फार्म हाउस जो कि मुंबई से थोड़ा सा दूर था. में पहुंचा तो उसने मेरे लिए दरवाजा खोला और फिर मुझसे कहा कि पीछे गार्डन में चला जा और तुम वहां से मेरे रूम में देख. फिर मैंने पीछे जाकर जैसा उसने मुझसे कहा वैसा ही किया और मैंने रूम में देखा, लेकिन वहां पर कोई नहीं था, तभी उसने किसी को फोन किया, शायद वो प्रिया ही थी.

मैंने देखा और में बिल्कुल हैरान हो गया कि प्रिया दस मिनट के बाद आ गई और उसको देखकर मेरी आँखे पानी से भर गई और मेरे दिमाग़ ने अब काम करना बिल्कुल बंद कर दिया, वो आकर नितिन की गोद में बैठ गई और नितिन ने कहा वाह मेरी जान आज तो तुम बहुत ही सेक्सी दिख रही हो, आज तो में तुझे खा ही जाऊंगा. फिर प्रिया बोली कि तुम मुझे पिछले तीन महीने से तो खा ही रहे हो, नितिन सर कब तुम मुझे छोड़ते हो, यह बात बोलकर वो ज़ोर ज़ोर से हंसने लगी.

दोस्तों अब मुझे उसकी बातों पर बिल्कुल भी विश्वास नहीं हो रहा था. नितिन ने उससे कहा कि कितनी बड़ी कमिनी है तू साली तुझे 60,000 सेलेरी क्या मिल गई तो मेरी पूरी बीवी ही बन गई, अब तो तू हर कभी मेरे कहने पर मुझे अपने सेक्सी बदन के मज़े देने लगी, वाह तेरी इस जवानी का कोई जवाब नहीं है हाहह. फिर वो शरमाई और फिर नितिन ने एक धक्का मारकर उसे बेड पर गिरा दिया और अब वो उसका टॉप उतारने लगा और प्रिया के होंठो को चूमने लगा, प्रिया भी जैसे नशे में धुत थी और फिर वो भी नितिन की शर्ट को उतारने लगी. उसके बाद नितिन ने उसकी जीन्स को भी उतार दिया और अब वो उसके सामने ब्रा, पेंटी में थी और नितिन अपनी जीन्स में था.

फिर बस उसने जल्दी से उसकी ब्रा को भी उतार दिया, जिसकी वजह से अब वो बस पेंटी में थी तो नितिन उसे हल्के से थप्पड़ मारने लगा और वो आह्ह्हह आईईईईई करने लगी और अब वो उससे कहने लगी कि सर में अब आपकी रंडी हूँ, आप मुझे और मारो प्लीज़. दोस्तों में बस वो सब कुछ चुपचाप देख रहा था और मेरे कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था कि मेरे सामने यह सब क्या चल रहा है और अब में क्या करूं. फिर उसके कुछ देर बाद मैंने देखा कि नितिन अब उसके मुहं को चूम रहा था और उसके बाल को पकड़कर उसे अपनी तरफ खींच रहा था और प्रिया बिल्कुल पागलों जैसे उसकी छाती को चाट रही थी. मैंने वो सब देखकर एकदम दंग रह गया था, क्योंकि वो मेरी बीवी थी जो कि अब मेरी नहीं थी.

दोस्तों अब नितिन को फोन बजा और फिर सबसे बड़ा धक्का मुझे तब लगा, जब मैंने देखा कि एक और आदमी अंदर आ गया, तो मुझे कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था. फिर प्रिया हंसते हुए उनसे बोली कि जय सर आप और नितिन हंसने लगे और बोले कि जय तेरी रंडी तुझे बहुत देर से बहुत याद कर रही थी और प्रिया भी उनकी वो बात सुनकर ज़ोर ज़ोर से हंसने लगी.

तब मुझे समझ में आ गया कि नितिन के साथ साथ जय भी उसे चोदता है, जो कि नितिन का फ्रेंड और उसकी कंपनी का मालिक भी है और अब जय ने तुरंत उसकी पेंटी को खींचकर उतार दिया और अब वो दोनों मिलकर प्रिया को खा रहे थे. एक उसके बूब्स को खींचता तो दूसरा उसकी चूत को चाटता, उन दोनों ने मिलकर उसे भूखे शेर की तरफ बहुत देर तक ऊपर से लेकर नीचे तक खाया, जिसकी वजह से उसके बूब्स, निप्पल, कूल्हे, गर्दन, पेट, चूत पर काटने नोचने के निशान होने की वजह से वो हर एक जगह से एकदम लाल हो चुकी थी.

फिर कुछ देर के बाद जय और नितिन ने अपनी अपनी पेंट को उतार दिया और अब प्रिया उन दोनों के खड़े लंड को बारी बारी से एक एक करके चूस रही थी और हिला रही थी, वो उन दोनों के लंड से बहुत व्यस्त होकर खेल रही थी और वो दोनों भी कभी उसकी चूत में ऊँगली करते तो कभी गांड में और वो कभी उसके बूब्स को पकड़कर बहुत बेरहमी से निचोड़ रहे थे, जिसकी वजह से वो अब जोश में आकर सिसकियाँ लेने लगी और कहने लगी कि प्लीज मुझे अब और मत तड़पाओ प्लीज अब अपना लंड डाल दो मेरी चूत में, मुझे अब ज्यादा सहन नहीं होता प्लीज उफ्फ्फ्फ़ आईईईइ और वो दोबारा से लंड को अपने मुहं में लेकर लोलीपोप की तरह चूसने लगी थी. दोस्तों वो उन दोनों के साथ ऐसे लगी हुई थी जैसे वो सही में कोई अनुभवी रांड हो और उसको देखकर में बहुत हैरान था.

तब नितिन ने मेरी तरफ इशारा करके मुझे आँख मारी और मुझसे कहा कि तुम अब अंदर आ जाओ, लेकिन में अंदर नहीं जा पाया, में बस बाहर से देख रहा था. अब कुछ देर बाद नितिन ने प्रिया को नीचे लेटाकर उसकी चूत को बहुत जमकर चोदा और जय ने उसको घोड़ी बनाकर उसकी गांड मारी और फिर प्रिया नंगी होकर उन दोनों के बीच में ऐसे ही पड़ी रही और तब तक 9 बज गए थे.

अब में वहां से अपनी पत्नी की उन दोनों के साथ उस ताबड़तोड़ चुदाई को देखकर और बहुत उदास होकर चुपचाप धीरे से बाहर निकल गया और में ना जाने कब अपने घर पर पहुंच गया, लेकिन मेरा अब भी बिल्कुल भी दिमाग़ काम नहीं कर रहा था, लेकिन दोस्तों अब बिल्कुल साफ था कि मुझे प्रिया से बहुत नफ़रत होने लगी थी, लेकिन दोस्तों प्रिया को मेरी इस नफरत से, मेरे उससे बात ना करने से, उससे नाराज रहने से कोई फ़र्क नहीं पढ़ता था और इस वजह से वो अब मुझसे धीरे धीरे बहुत दूर जाती गई.

Updated: July 17, 2016 — 2:09 am
Best Hindi sex stories © 2020

Online porn video at mobile phone


antervsnawww antarvasna in hindi com??antarvasna indian hindi sex storiesantarvasna images of katrina kaifreal antarvasnameraganaindian sexxsexy auntyboobs sexychachi ki antarvasnabrother sister sex storiesantarvasna hindi bhabhidesi aunty xxxantarvasna free hindi sex storysex khaniindian sex stories.netbhojpuri antarvasnahindi sex kahanisex story hindi antarvasnagroup sex indiansex with nursegujrati sexpadayappaantarvasna marathi comsexy story hindiwww.kamukta.comindian sec storiesantarvasna hindi bhabhiantarwasanasexy kahaniyayodesiindian sex stories in hindi fontporn hindi storiesgroup xxxgaanddesi xossipxssoippapa ne chodawww antarvasna cominmarathi sex storiesmy bhabhi.comantarvasna story in hindihindi sex.com????? ????? ???sex stores????antarvasna hot storiesantarvasna story 2016sexkahaniyaindian incest sexantarvasna pdfwww antarvasna hindi kahanigujarati sex storiesdesi aunty xxxantervasna.comdevar bhabhi sexantarvasna video in hindisexstoryantarvasna . combreast pressingantarvasna new hindiantarvasna storyhindi sex storysromantic sex storiesantarvasna story with imagexosipdidi ki chudaisexy boobsantarvasna pdf downloadchuthindi sex kahaniyahindi sexy kahaniyanonveg storyantarvasna 2holi sexanjali sexwww antarvasna story comchudai chudaibhabhisexhindi antarvasna videoantarvasna sax storydesi sex.comteacher sexantarvasna com marathiantarvasna cinsex hindi antarvasnaantarvasna ihindi sx storyxxx kahaniindiansexstorieshot sex story